India To Take Donation in PM Cares Fund From Abroad In Fight Against Coronavirus COVID 19 – कोरोनावायरस से जंग : COVID-19 से लड़ने के लिए भारत पहली बार लेगा विदेश से चंदा- सूत्र

0
99
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

[ad_1]

कोरोनावायरस से जंग : COVID-19 से लड़ने के लिए भारत पहली बार लेगा विदेश से चंदा- सूत्र

कोरोना वायरस से लड़ाई के लिए ‘पीएम केयर्स फंड’ बनाया गया है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • कोरोना वायरस से 40 हजार से ज्यादा लोगों की मौत
  • पीएम ने की थी ‘पीएम केयर्स फंड’ की घोषणा
  • अब विदेश से भी ले सकेंगे ‘पीएम केयर्स फंड’ में दान

नई दिल्ली:

महामारी कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ाई के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने ‘पीएम केयर्स फंड’ की घोषणा की है. देश की दिग्गज हस्तियां इस फंड में दान कर रही हैं. अब तक हजारों करोड़ों रुपये फंड में जमा हो गए हैं. सूत्रों के अनुसार, भारत सरकार ने अब तय किया है कि इस फंड में विदेशों से भी दान की गई रकम स्वीकार की जाएगी. सूत्र ने बताया, ‘ये महामारी भयानक है. जब प्रधानमंत्री ने इस मिशन के प्रमुखों से बात की, तो उन्होंने उन्हें प्रयास करने के लिए कहा, ताकि पीएम केयर्स फंड में योगदान दिया जाए. अब विदेश से दान स्वीकार करने का निर्णय लिया गया है.’

बता दें कि ‘पीएम केयर्स फंड’ एक पब्लिक चैरिटेबल फंड है. कोरोना वायरस से लड़ाई के लिए इसकी शुरूआत की गई है. व्यक्ति या संगठन इसमें योगदान दे सकते हैं. अब भारत के साथ-साथ विदेश में रह रहे लोग भी इस फंड में दान दे सकते हैं. माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला की पत्नी अनुपमा ने इस बीमारी से लड़ने के लिए दो करोड़ रुपये डोनेट किए हैं. भारत के कई प्रमुख कारोबारियों, बॉलीवुड हस्तियों समेत अलग-अलग क्षेत्रों से जुड़े सेलेब्स इसमें योगदान दे रहे हैं.

कोरोनावायरस : हरियाणा में COVID-19 से पहली मौत, 67 वर्ष के बुजुर्ग ने चंडीगढ़ PGI में तोड़ा दम

गौरतलब है कि विदेश मंत्रालय ने बीती 16 मार्च को इस संकट को देखते हुए स्पेशल COVID-19 सेल का निर्माण किया था. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, अभी तक उनको दुनियाभर में रह रहे भारतीयों की 3300 कॉल्स और 2200 ई-मेल मिले हैं. अधिकारियों ने बताया कि फिलहाल सरकार का फोकस है कि जिस देश से भारतीय कॉल्स या मेल कर रहे हैं, वहां के दूतावास से संपर्क कर उन्हें हर संभव मदद दी जाए. अभी तक भारत अलग-अलग देशों से भारतीयों समेत अन्य देशों के 2500 नागरिकों को एयरलिफ्ट कर चुका है. ज्यादातर लोगों को क्वारंटाइन सेंटर में रख उनकी जांच की गई. अभी तक भारत से करीब 10 हजार विदेशी नागरिक अपने देश जा चुके हैं.

पद्मश्री से सम्मानित स्वर्ण मंदिर के पूर्व ‘हजूरी रागी’ की कोरोना वायरस से मौत, फरवरी में लौटे थे विदेश से

वैश्विक स्तर पर भी भारत अन्य देशों के साथ मिलकर इस महामारी से लड़ाई लड़ रहा है. पिछले कुछ दिनों में पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) रूस, फ्रांस, कतर, ब्रिटेन, इजरायल, अफगानिस्तान समेत 9 देशों के प्रमुखों से फोन पर बात कर चुके हैं. पीएम मोदी सार्क देशों के नेताओं के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस भी कर चुके हैं. बताते चलें कि दुनिया के साथ-साथ भारत में भी कोरोना वायरस का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है. 180 से ज्यादा देशों में फैल चुका यह वायरस अब तक 40,000 से ज्यादा जानें ले चुका है. दुनियाभर में करीब 7 लाख लोग इससे संक्रमित हैं. भारत में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 1834 हो गई है. बीते 36 घंटों में कोरोना के 437 नए मामले सामने आए हैं. देश में अभी तक 41 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि 141 मरीज इस बीमारी को हराने में कामयाब भी हुए हैं. पीएम मोदी ने 24 फरवरी को देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी.

VIDEO: जो कोरोना को पराजित कर चुके हैं आज हमें उनसे प्रेरणा लेनी है : PM मोदी

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here